HOLY PROPHECY 79 IN HINDI

print

HOLY PROPHECY 79 IN HINDI

भविष्यवाणी ७९

मैं, याहुवे कहता हूँ, लोगों तुम सत्या से भटक रहे हो!

प्रेरित और भविष्यवक्ता (Apostle & Prophet) एलिशेबा एलियाहु के माध्यम से
पवित्र आत्मा (रुआख़ हा कोडेश) के अभिषेक से लिखा और बोला गया
अगस्त २, २००५, प्रात: ४ बजे

* * * * * * *

संपादक की टिप्पणी: याहुवे की यह भविष्यवाणी यहाँ इसलिए शामिल किया गया क्योंकि यह एक आत्मिक नीव बनाती है जिस पर बाकी के भविष्यवाणीयों को बोला गया। जब यह वचन बोला गया तो याहुवे की विभाजित करने वाली तलवार उनके बीच चली जो उनके असल सब्बाथ (Sabbath) का आदर करते हैं (जोकि शुक्रवार सूर्य अस्त से शनिवार सूर्य अस्त तक होता है) और जो इंसान के बनाए हुए सब्बाथ (रविवार) को त्यागने को तैयार नहीं है – वह दिन जब प्राचीन कल में रोम वासी अपने सूर्य देवता को पूजते थे|
अगस्त १, २००५ को एलिशेबा को बार बार यही सुनाई दे रहा था “मैं, याहुवे, तुझे कहता हूँ एलिशेबा की तू लोगों को बता “लोगों तुम सत्या से भटक रहे हो!” फिर अगस्त २, २००५ को जब एलिशेबा वैबसाइट मैनेजर (भूतपूर्व) को बता रही थी तो वह एक शक्तिशाली अभिषेक से भर गयी और जब वह पवित्र भाषा में बोलने लगी तो यह भविष्यवाणी का जन्म हुआ|

* * * * * * *
नीचे भविष्यवाणी दी गयी है|
— जो भविष्यवक्ता एलिशेबा “पवित्र अन्य भाषा” में बोल रही है जैसे परमेश्वर की आत्मा उसे शब्द दे रहे हैं (प्रेरितों २:३-४) स्वर्गदूतों और मनुष्यों के भाषा में (१ कुरिंथियों १३:१)। एलिशेबा अन्य भाषा में बोलकर भविष्यवाणी को उजागर कर रही है (१ कुरिंथियों १४:६)।
हम परमेश्वर के येहूदी (Hebrew) नामों का आदर और उपयोग करते हैं:

जैसे आल्लेलूइया (Alleluia) अथवा हालेलुयाह: (HalleluYAH) הללו–יה का मतलब “याह: की जय” है | याह: अथवा याहु (YAH/ YAHU יה) परमेश्वर का पवित्र नाम है| याहुवे या याहवे: (YAHUVEH or YAHWEH י-ה-ו-ה ), पिता परमेश्वर; याहुशुआ (येशु मसीह) (YAHUSHUA יהושוע), पिता परमेश्वर से उत्पन्न इकलौता पुत्र; हामशीहाख़ (HaMashiach המשיח) का मतलब मशीहा है; एलोहिम (ELOHIM אלוהים) का मतलब परमेश्वर है; यह प्रकाशित सत्या की श्खिन्याह: महिमा (SH’KHINYAH GLORY שכניה תפארה) ही रुआख़ हा कोडेश (पवित्र आत्मा) (RUACH HA KODESH רוח הקדש) का व्यक्तिगत नाम है, भी आपको इस वैबसाइट में मिलेगा | हा श्खिन्याह: (शेकिनाह) (HA SH’KHINAH שכינה {SHEKINAH}) येहूदी में परमेश्वर के दिव्य उपस्थिती और महिमा को कहा जाता है|
उसके उपरांत, अब्बा याह: (ABBA YAH אבא יה) का मतलब “पिता याह:” है और इम्मायाह: (IMMA YAH אמא יה) का मतलब “माता याह:” है | येहूदी में परमेश्वर के आत्मा को स्त्रीलिंग माना जाता है और उसी तरह इस वैबसाइट के सारे भविष्यवाणियों और वचनों में आपको वे मिलेंगे |

#पवित्र वचनों का जिक्र प्राय: KJV/NKJV or CJB (Complete Jewish Bible) से है|
#जो भी शब्द होली ट्रिनिटी को संभोधित करती है वह बोल्ड अक्षरों (bold font) में लिखा गया है, उनके आदर और सम्मान में|
# सामान्य हिन्दी भाषा में परमेश्वर को भी तू कहके संभोधित किया जाता है जो की उनका असम्मान
है| याहुवे परमेश्वर, याहुशुआ और पवित्र आत्मा परम पवित्र, सर्वशक्तिमान और पूजनीय है इसलिए हम हमेशा उनको आप कहके पुकारेंगे|
# यह भविष्यवाणी www.amightywind.com में प्रकाशित भविष्यवाणी का हिन्दी अनुवाद है।

* * * * * * *

पिता परमेश्वर  याहुवे का भविष्यवाणीयों से पहले चेतावनी:

 एलिशेबा मैंने तुम्हें बहुत पहले ही, जब यह मिनिस्ट्री बना भी न था, तभी बता दिया था की इस मिनिस्ट्री को किसी पुरुष या स्त्री के नाम से नहीं बुलाया जायेगा| मैंने तुम्हारी आत्मा में यह डाल दिया था क्योंकि ये सब कुछ  ना तो तुम्हारे हाथों से ना ही तुम्हारे शब्दों से बना है| बल्कि यह याहुवे (याहवे) के मुँह से जन्मा है| यह मिनिस्ट्री याहुशुआ (येशु मसीह) तुम्हारे मसीहा के मुँह से जन्मा है | यह मिनिस्ट्री रुआक हा कोडेश (पवित्र आत्मा) जो तुम्हारी ईमायाह: (स्वर्गीय माता) है, के मुँह से जन्मा है | अगर यह तुम्हारे मुँह से निकला होता तो कब का विफल हो जाता | यह मिनिस्ट्री  श्खिन्याह: महिमा (SH’KHINYAH GLORY) की वो हवा जो पूरे विश्व में बेहती है, वह पुनर्जीवित करनेवाली पवित्र हवा से उत्पन्न हुआ है | यह तेरे सासों से नहीं जन्मा अथवा विफल हो जाता | (यशायाह ४२:८)

यशायाह ४२:८
मैं याहुवे हूं, मेरा नाम यही है; अपनी महिमा मैं दूसरे को न दूंगा और जो स्तुति मेरे योग्य है वह खुदी हुई मूरतों को न दूंगा।

जुलाई २०१० में याहुवे एलोहिम ने २ इतिहास से  इस वचन को भी हर भविष्यवाणी से पहले शामिल करने को कहा:

२ इतिहास ३६:१६
परन्तु वे परमेश्वर के दूतों को मज़ाक में लेते, उसके वचन को तुच्छ जानते, और उसके नबियों की हंसी करते थे| अत: याहुवे अपनी प्रजा पर एसे क्रोधित हुए कि बचने का कोई उपाय न रहा |

भविष्यवक्ता कालेब की चेतावनी:
मैं उन सब को चेतावनी देता हूँ जो इस मिनिस्ट्री, यह पवित्र भविष्यवाणियाँ, एलिशेबा और मेरे, और AmightyWind Ministry के विरुद्ध आता है| मैं तुझे चेतावनी देता हूँ, “उन्हें मत हाथ लगा जो याहुवे के अभिषेकित हैं और उनके भविष्यवक्ताओं पे जुर्म न कर” (भजन साहिता १०५:१५, १ इतिहास १६:२२) कही तुझपर याहुवे की क्रोध की लाठी ना बरस पड़े | परंतु वे जो इस मिनिस्ट्री से आशिसित हैं और इस मिनिस्ट्री को आशिसित और सहायता करते हैं, और वफादार है, और वे जो इस भविष्यवाणियों को ग्रहण करते हैं, उनपर बहुत आशिशें बरसेगी — ताकि वो सब सुरक्षित रहे जो याहुवे का है, याहुशुआ के नाम में।
* * * * * * *
भविष्यवाणी ७९ यहाँ से शुरू होती है:
अगस्त २, २००५, प्रात: ४ बजे
अगर तू आज मेरी आज्ञा का पालन नहीं कर रहा और जिस पवित्र दिन को मैंने सब्बाथ (Sabbath) के लिए भिन्न रखा है उसकी अवहेलना कर रहा है – अगर तुझे लगता है की मेरे हर उपदेश को मानना जरूरी नहीं है – तो फिर तूने कैसे मान लिया की वो जल्द ही आनेवाला महाक्लेश (Great Tribulation) के समय तू मेरी आज्ञा का पालन करेगा?
क्यों तुझे मनुष्यों के बनाए हुये सिद्धांतों पे चलना ही सुविधाजनक लगता है, जब वे मेरे वचनों को तोड़-मरोड़ कर अपने पापयुक्त परीभाषा देते है? हाँ मेरा पुत्र याहुशुआ तेरा विश्राम है, पर वह तेरे विश्राम का दिन नहीं है। मेरा पुत्र याहुशुआ कोई दिन नहीं है और मेरा चौथा उपदेश स्पष्ट रूप से कहता है की मेरे सब्बाथ के विश्राम के दिन को पवित्र रखो और उसका सम्मान करो। इस उपदेश का कौन सा भाग तुझे समझ नहीं आता? हाँ, याहुशुआ में तू विश्राम कर, क्योंकि उनका जुआ सहज और उनका बोझ हल्का है (मत्ती ११:३०), पर इसका सब्बाथ के दिन के साथ कोई संबंध नहीं है। क्या याहुशुआ सब्बाथ नहीं रखते थे?
क्या मैंने मेरे पुत्र याहुशुआ को एक उदाहरण के लिए नहीं भेजा था तुम सबके लिए? क्या तुझे पता भी है मैंने वो विश्राम का दिन क्यों बनाया था (उत्पत्ति २:१-३)? क्या तुझे नहीं पता की सब्बाथ का दिन तेरे लिए आशीष है, श्राप नहीं?
मेरा चौथा उपदेश स्पष्ट रूप से मेरे पवित्र सब्बाथ के विश्राम के दिन को रखने को कहता है। वह नियम जो खुद मैंने अपने अग्निमय उँगलियों से उस पत्थर की शीला में लिखा था (निर्गमन ३१:१८; व्यवस्थाविवरण ९:१०) और मूसा को सिनाइ पर्वत में दिया था, क्या यह नहीं कहता: “मेरे सब्बाथ के दिन का सम्मान करना और उसे पवित्र रखना” (निर्गमन २०)?
मैं तुझे फिर पूछता हूँ, मेरा पुत्र याहुशुआ कबसे एक दिन कहलाने लगा? खुदसे पूछ, क्यों शैतान ने सब्बाथ के दिन को रविवार में बादल दिया अगर वो उस दिन को महाक्लेश के समय इस्तेमाल नहीं करना चाहता था? उनके बहकावे में मत आ जो इस सच्चाई के विपरीत प्रचार करते है। तेरी विजय इसी सच से स्थापित होगी।
मेरे पवित्र वचन में लिखा है की याहुवे झूठ नहीं बोलते।
अगर तू मेरी आज्ञाओं का पालन करेगा तो बहुत सारे अशीशे और जीत है, जैसे की व्यवस्थाविवरण २८ में लिखा है। पर अवज्ञा के लिए श्राप भी है। पढ़ और अध्ययन कर की निर्गमन ३१: १२-१७ में क्या लिखा है। यथार्थ में सब्बाथ, मैं याहुवे, और मेरे जनों के बीच एक चिन्ह होगा और उससे यह पता चलेगा की महाक्लेश के समय कौन मेरी स्तुति और सेवा करेगा।
क्या तू, मैं याहुवे और याहुशुआ को असली सब्बाथ के दिन पुजेगा – जो की शुक्रवार सूर्यास्त से शनिवार सूर्यास्त तक होता है? या तू महाक्लेश के दिनों में रविवार के दिन शैतान की स्तुति और सेवा करेगा?
अगर आज तू मेरे पवित्र सब्बाथ के दिन का सम्मान नहीं करता, तो तूने कैसे मान लिया की तू तब करेगा, उस महाक्लेश के दिनों में जिसके आने में मात्र कुछ ही छन बचें है?

इसलिए मैं अभी मेरे इस रिंगमैडन (Ringmaiden) के माध्यम से बोल रहा हूँ – जिससे एक अंतर्राष्ट्रीय भविष्यवक्ता के रूप में अभिषेकित किया गया है – ताकि यह चेतावनी दुनिया भर में गूँजे। क्या तुझे यह नहीं पता की जो प्रचार करते है की मेरे आज्ञाओं का पालन करना और मेरे लिए पवित्र जीवन जीना असंभव है, वो खुद अपने पापों के लिए बहाने बना रहे हैं?
मैं याहुवे कहता हूँ “लोगों तुम सत्या से भटक रहे हो!”
यहाँ तर्क की कोई गुंजाइश नहीं है। तू या तो वो करेगा जो मैं याहुवे कह रहा हूँ या तू महाक्लेश के समय अपने आत्मा से इसकी कीमत चुकाएगा। जो लोग एलिशेबा के खिलाफ उठ कर कह रहे है “मैं एलिशेबा का न्यायाधिस (judge) और पंच (jury) दोनों बनूँगा,” अभी इसी वक़्त पश्चाताप कर और मुझसे और एलिशेबा से माफी मांग वरना तुझे मेरा सामना करना पड़ेगा। और मैं कहूँगा “चला जा मेरे नजरों के सामने से कुकर्मि” (मत्ती ७:२३; लुकस १३:२७), क्योंकि मैं याहुवे हूँ और मैं किसी तर्क में हिस्सा नहीं लेता। केवल मैं अकेला ही न्यायाधिस, मैं अकेला ही पंच, मैं अकेला ही रेफ्री हूँ।
यह एलिशेबा के नहीं मेरे शब्द हैं!
तुम प्रचारकों और अराजकता सिखाने वाले झूठे भविष्यवक्ताओं, तुम उस पर आक्रमण करते हो। तुम उस की बदनामी करते हो मेरे उन उपदेशों और नियमों के लिए जिससे मैंने खुद मेरे उँगलियों से लिखा है। तुम मेरे भेड़ और मेमनों को सिखाते हो की मैं उनके पापों को देख कर आँख मारता हूँ और उसे नजरंदाज करता हूँ। आज ही पश्चाताप कर! क्योंकि मैं (I AM) परमेश्वर याहुवे अभी भी किसी तरह बदला नहीं हूँ। तुम जो उसके ऊपर न्यायाधिस बन बैठे हो, अपने आँखों से लट्ठा निकालो इससे पहले की तुम दूसरों के आँखों से तिनका निकालने की कोशिश करो (मत्ती ७:५)। तू पाप में घृणित बन गया है। तू विद्रोह में घृणित बन चुका है। तू अवज्ञा में घृणित बन गया है। तू घमंड में घृणित बन चुका है।
मेरे सामने अपने मुंह के बल गिर क्योंकि मैं याहुवे तेरा रचयिता हूँ, अनंतरूपी. तूने मेरे पुत्र याहुशुआ को अपने पापों का कारण कहने का दुशसाहस किया है! तूने उसके लहू को रौंध के अपने पापों का कारण कहने का दुशसाहस किया है! मेरे सामने अपने मुंह के बल गिर, इससे पहले की बात बहुत दूर निकल जाये और मेरी ओर मुड़ने का कोई मार्ग न रहे (इब्रानियों ६:४-६)! मेरे रुआक हा कोडेश (पवित्र आत्मा) को पीड़ा मत पहुचा!
मेरा पुत्र याहुशुआ मेरे नियमों को रद्ध करने के लिए नहीं आया था।
मेरा पुत्र याहुशुआ मेरे नियमों को परिपक्व करने के लिए आया था (मत्ती ५:१७)।
शुक्र माना की मैं अब तुझे ६१३ नियमों को मानने की ज़िम्मेदारी नहीं देता। मैं तुझे केवल मेरे १० धर्मादेशों को मानने को कहता हूँ और तू उस पर भी अपने हाथ खड़े कर कहता है, “यह मेरे लिए बहुत ज्यादा है।“
तू मनुष्यों की बातों को मानना पसंद करता हैं, उनको जो मेरे नियमों को तोड़-मरोड़ कर पेश करतें हैं। वे कहते है मासूम बच्चों को गर्व में ही मार देना पाप नहीं है। वे जो गर्वपात को कानूनी दर्जा देते हैं।
तुम्हारे गिरिजाघरों मे पादरी सिखाते है, “इस गर्वपात कानून के खिलाफ मुंह मत खोलना।“ आयोजित गिरिजाघर जो रविवार सम्मिलित होती है उसने इस दुनिया के सरकारों से घूश लिया है। आयोजित गिरिजाघरों ने भय के आत्मा को अपने दामन में चोली की तरह पहन लिया है।
कहाँ गए वे मेरे पवित्र सेवक जिन्होने सम्झौता नहीं किया है और अभी भी पाप के खिलाफ बोलते हैं? तेरे बनाए हुए नियम उसे कानूनी कहती है जिसे मैंने अति घृणित कहा है – तू उसे “सैमलींगिक विवाह” कहता है”। सदोम (Sodom) और अमोरा (Gomorrah) के समय भी यह अति घृणित सैमलींगिकता आम थी पर अब तो यह पाप उससे भी आगे बड़ चुकी है। उन लोगों ने भी इस घृणित संबंध को कभी विवाह कहने का दुशसहस नहीं किया था!
इस झूठ को सच समझने की गलती मत कर जो सिखाती है “एक बार तूने बपतिस्मा ले लिया तो हमेशा के लिए स्वर्ग का अधिकार मिल जाता है” (यहेजकेल ३३:१२)। उस सीख को मत अपना जो कहती है: क्योंकि याहुशुआ ने कल्वरी में कीमत चुकाया है तो अब फर्क नहीं पड़ता तू पाप में जी रहा है। उसपे विश्वास मत कर जो कहता है – फर्क नहीं पड़ता की तू जितनी मर्जी पाप कर और नर्क के बिलकुल छोर तक पहुंच जा क्योंकि तूने याहुशुआ के नाम में उद्धार की प्रार्थना की है (मत्ती ७:२१-२३)।
तुझे लगता है की बिना अच्छे कर्मों के भी तुझे स्वर्ग के द्वारों से प्रवेश करने की गारंटी मिल गई है। दुराचारियों दूर हो जाओ मेरी नजरों से! मैं और नहीं सुनना चाहता तुम्हारे बहानों को। या तो तू पवित्र जीवन यापन करेगा, या तो मैं कहूँगा “दुराचारियों, मैंने तुम्हें कभी नहीं जाना”।
मैं याहुवे कहता हूँ “लोगों तुम सत्या से भटक रहे हो!”
तू अभी गिरिजाघरों में बैठ उन लोगों की बातें सुनता है और उस झूठ पे विश्वास करता है जो कहता है: रविवार ही सब्बाथ है और सब्बाथ कोई भी दिन हो फर्क नहीं पड़ता। तू उस झूठ पे विश्वास करता है जो ज़्यादातर पास्तर और कुछ रबी भी प्रचार करतें है की याहुवे, याहुशुआ और रुआक हा कोडेश के पवित्र नामों में कोई अभिषेकित शक्ति नहीं है; कोई भी नाम चलता है।
झूठे प्रचारक कहते है की मशीहा के येहूदी जड़ों के बारे में जानने की जरूरत नहीं। वे कहते है की अगर तू येहूदी नहीं तो ये बातें लागु नहीं होती। ये न्यायविरुद्ध प्रचारक तुझे सिखाते है की तू एक गैर-इस्राएली है और तुझे इस्राएलियों के दिये हुये नियमों को पालन करने की जरूरत नहीं है। क्या तू भूल गया की जब तूने मेरे पुत्र, याहुशुआ को अपना मशीहा स्वीकार किया तो तू उनसे एक हो गया (रोमियों ११:१६-२१)?
तू सोचता है, “कहा है वह अभिषेकित शक्ति जो प्रथम कलिशिया में चिन्ह, आश्चर्य और चमत्कार के रूप में देखा जाता था? तू कराहता है, “कहा है वह चमत्कारों की अभिव्यक्ति जो पुराने दिनों में हुआ करती थी?”
फिर लौट आ प्रथम कलिशिया के तौर-तरीकों पर और तू फिर ऊन चमत्कारों को देख पाएगा। जिन्हें सच का पता नहीं था, मैं कहता हूँ तू सिर्फ उसके लिए ज़िम्मेवार है जो तू जनता है। अब दूसरों को इन सच्चाइयों को बारे में बताना और सिखाना तेरी ज़िम्मेदारी है। परंतु वे जिन्हें सही का पता है और फिर भी गलत करतें है, तुम अपनी आत्मा से उसका मूल्य चुकावोगे।
मैं याहुवे कहता हूँ “लोगों तुम सत्या से भटक रहे हो!”
तू अभी इन दुष्ट आध्यात्मिक गुरुओं के आज्ञाओं का पालन करता है, जो पाप करने के बहाने ढूंदते है। फिर तुझे क्यों लगता है की महाक्लेश के समय तू ऐसा नहीं करेगा – शैतान के पुत्र के साथ?
मैंने एलिशेबा के माध्यम से अपने भविष्यवाणियों से तुझे बताया है की मेरा पुत्र याहुशुआ अपने दुल्हन के लिए रोश हशनह (Rosh HaShanah) के समय जो सब्बाथ के दिन पड़ेगा, तब आयेगा। अगर तुझे कोई ये नहीं सीखा रहा है की मेरे सब्बाथ और पवित्र पर्वों का कैसे पालन करना है; कैसे हमारे पवित्र नामों को लेना है; और मेरे तोराह (दस उपदेशों) का कैसे पालन करना है, तो कैसे तू सीखेगा मुझे और मेरे पुत्र को आदर देना, जैसे मैंने आदेश दिया है? तू कैसे जान पाएगा कौन सा दिन है – बिना अध्ययन किए और बिना खुद को योग्य सिद्ध किए (2 तिमुथियूस 2:15) – की मैं याहुवे ने मेरे सब्बाथ के लिए निर्धारित किया है? तू कैसे तैयार रहेगा जब याहुशुआ दोबारा आएंगे?
मैं याहुवे कहता हूँ “लोगों तुम सत्या से भटक रहे हो!”
अगर तू मेरे पवित्र पर्वों का सम्मान और पालन नहीं करता, तो फिर तुझे कैसे पता चलेगा रोश हशनह क्या है और कब है? फिर जब तू पिछे छूट जाएगा तो तू पूछेगा, “आखिर क्यों?” इसलिए मैं मेरे रिंगमैडन के माध्यम से समय से पहले ही बता रहा हूँ की मैं याहुवे यह रिंगमैडन, जो मेरे पुत्र के दुल्हनों मे से एक है, के माध्यम से ही भविष्यवाणि करता हूँ।
याहुशुआ के दुल्हन केवल महिमित शरीर में ही परिवर्तित नहीं होंगे – पर इस तरह अभिषेकित होंगे की लगेगा जैसे याहुशुआ उनके माध्यम से काम कर रहें है और उनके साथ-साथ चल रहे है – वे उन्हें इस तरह अभिषेक से भर देंगे की उनके लिए कुछ भी असंभव नहीं होगा!
और ४० दिनों तक मेरे पुत्र के दुल्हन सब को सावधान करेंगे, “पशु के छाप को मत लेना (प्रकाशितवाक्य १३:१५-१८)।” वे उनके पास जाएंगे जिनहे मैं अतिथि कहता हूँ और वे जिनके नाम मेमने के जीवन की पुस्तक में लिखा है और कहेंगे, “उदण्ड मत बनो। भले ही तुम्हें जान गवाना पड़े, सम्झौता मत करो”।

तू देख रहा है, बिना उसके महिमित शरीर के भी, कैसे मैं अभी इस रिंगमैडन का उपयोग कर रहा हूँ; एक आवाज जो समय से पहले तुम्हें सावधान करता है। क्योंकि मैंने उसे देशों के लिए भविष्यवक्ता (Prophet to the Nations) चुना है। उस शापित पशु के चिन्ह (Mark of the beast) को अपने शरीर पे मत लेना! कलिशियाओं में रविवार की आराधना और पशु के चिन्ह में संबंध है।
खबरदार! तू अपनी आत्मा खो देगा अगर तू महाक्लेश के समय रविवार की आराधना वाले कानून का पालन करेगा। मुझे सदोम और गुमराह (Sodom & Gomorrah), जिसका मैंने आग और गंधक से सर्वनाश किया था, से माफी मांगनी पड़ेगा अगर मैं इस पृथ्वी में चल रहे पाप और दुराचार को और ज्यादा चलने दूँ। मैं कभी सदोम और गुमराह से माफी नहीं माँगूँगा! मैं हर उस चीज़ का नामों-निशान मिटा दूंगा जिससे मुझे, याहुवे को नफरत है।
ये झूठे प्रचारक पाप के बहाने बनाते है और तूने उनको सुना है और उसका पालन किया है। तू इस मिनिस्टरी में अपने आध्यात्मिक भोजन के लिए आता है: यहाँ के अभिषेक को चखने के लिए, आध्यात्मिक दूध को पीने के लिए और आध्यात्मिक मांश को खाने के लिए। पर तुम में से कितने है जो दोबारा रविवार वाले गिरिजाघरों में जाकर सम्झौता करते है? फिर तुम अपने पास्टर के चरणों में जाकर अपनी वफादारी साबित करते हो। और वही तुम अपने दसवांश और भेंट चड़ाते हो। ये ढकोसलापन नहीं चलेगा।
तुझे समझना है की कौन सा दिन है जो मैंने शब्बाथ के लिए निर्धारित किया है। क्योंकि जिस तरह इस दिन को मैंने सब्बाथ कहके स्थापित किया है और आदेश दिया है की उस दिन तुझे मुझे आदर देना है, विश्राम करना है, और मेरे और निकट आना है – उसी तरह शैतान का पुत्र उन्हें आदेश देगा जिन्होंने सम्झौता किया है की वे उसे उसके कहे हुये दिन में उसे पूजे।
मैं, याहुवे कहता हूँ “लोगों तुम सत्या से भटक रहे हो!”
जैसे मेरे पुत्र, याहुशुआ ने कहा था “इस दाखरस और इस रोटी को मेरे स्मरण में ग्रहण करो” (१ कुरिंथियों ११:२३-२६) – क्या तुझे पता नहीं की जल्द ही आने वाला महाक्लेश में उन सबको, जिन्होने उसके छाप को लिया है, शैतान का पुत्र कहेगा “ये मेरे स्मरण में कर”? वे फिर अपने प्यालों से याहुशुआ में साहिदों के रक्त को पिएंगे। वे प्याले रक्त से भरे होंगे और वे रक्त पिशाचों के तरह उसे पिएंगे।
और जिस तरह स्मृति भोज (communion) के प्लेट को वितरित किया जाता है – बिलकुल उसी तरह – वे उस प्लेट को वितरित करेंगे और शैतान का पुत्र कहेगा “ये मेरे स्मरण में कर।” वे याहुशुआ में साहिदों के भुने हुये मांश को खाएँगे। वे मेरे स्मृति भोज का और याहुशुआ के दुल्हन का मज़ाक उड़ायेंगे। वे तिब्रता से याहुशुआ के दुल्हन से नफरत करेंगे क्योंकि उनको पता होगा की धर्मी जन के प्रार्थनाओं के कारण शैतान के पुत्र का आना तब तक टलता रहा जबतक याहुशुआ के दुल्हन को सूरक्षित निकालने का समय नहीं आया। धर्मी जन के प्रार्थनाओं के प्रभाव से बहुत कुछ हो सकता है (याक़ूब ५:१६)।
मैं, याहुवे सावधान कर रहा हूँ। उन पापों की शुरुआत हो चुकी है।
रविवार वाले कलिशियाओं में महाक्लेश के समय मैथुनिक पार्टीयां होंगी। इस तरह शैतान का पुत्र याहुशुआ के दुल्हन का उपहास करेगा। क्योंकि याहुशुआ और उनका दुल्हन एक है, और वे सब जो याहुशुआ को पूजते है और जो मेरे पुत्र की आज्ञाओं का पालन करते हैं वे एक है – क्योंकि यह एक आध्यात्मिक संबंध है जो उनके शरीर, मस्तिस्क, अंतर मन और आत्मा को जोड़ती है – इसलिए रविवार वाले कलिशियाओं में महाक्लेश के समय मैथुनिक पार्टीयां करके शैतान का पुत्र उन सबका उपहास करेगा।
वह महा छल की शुरुआत हो चुकी है समलैंगिक कलिशियाओं से। मैं फिर कह रहा हूँ, वह पाप की शुरुआत हो चुकी है।
मैं, याहुवे कहता हूँ “लोगों तुम सत्या से भटक रहे हो!”
मैं इसी तरह इस मिनिस्ट्री का इस्तेमाल कर रहा हूँ, भेड़ों को बखरियों से अलग करके, गेहूं को जंगली घास से अलग करके। जिनका नाम इस संसार की उत्पत्ति से पहले, मेमने के जीवन के पुस्तक (Lamb’s Book of Life) में लिखा है, केवल उनका नाम ही मेमने के जीवन के पुस्तक में रह जायेगा। वे शैतान के पुत्र की पुजा नहीं करेंगे और पशु के चिन्ह (Mark of the Beast) को नहीं स्वीकारेंगे। अगर तुम इसको पड़ने और सुनने के वौजूद अभी अमान्य करके सम्झौता कर रहे हो, महाक्लेश के समय तुम असल सब्बाथ का पालन और सम्मान करोगे जो सुक्रवार सूर्यास्त से शनिवार सूर्यास्त तक होता है, भले ही तुम्हें उस वक्त अपनी जान देनी पड़े और तुम्हें सहिद बना दिया जाए।
तुम सबके नाम पहले से लिखे है क्योंकि मुझे तुम्हारे जन्म से पहले ही पता था तुम क्या करोगे। अगर तुम आज मेरी बात नहीं मन रहे हो तो उस समय मानोगे।
जो इस संदेश को पढ़ के गुस्से में अपने दाँतों को पीसकर मेरे रिंगमैडन पर क्रोध करते हैं, ठीक उसी तरह तुम महाक्लेश में भी आक्रोश में दाँतों को पीसकर, मैं, याहुवे तुम्हारे सृस्टिकर्ता की ओर घुसा दिखाओगे जब श्राप और महामारी तुम्हारे ऊपर एक-एक करके उँड़ेली जाएगी, पर फिर भी तुम अपने पापों का प्रायश्चित नहीं करोगे। और उस दिन तुम्हारा नाम अगर मेमने के जीवन के पुस्तक में लिखा भी है तो मैं उसे मिटा दूंगा (प्रकाशितवाक्य ३:५)।
और वे भी जो सोचते है की क्यों एलिशेबा अपने ऊपर ये उत्पीड़न ला रही है, वह इसलिए क्योंकि मैं इस मिनिस्ट्री को गेहूं और जंगली घास को अलग करने में इस्तेमाल करता हूँ – जब तुम इसे सुनोगे तो तुम्हें पता चलेगा की तुम गेहूं हो या जंगली घास। क्या तुम जंगली घास हो जो केवल मेरे क्रोध और निगलने वाली आग में नष्ट होने के लिए बने हो? – हाँ मैं एलिशेबा को दुल्हनों को बुलाने के लिए भी इस्तेमाल करता हूँ, एक आवाज जो वह पाँच समझदार कूंवारियों को यह कहके बुलाती है: “सम्झौता मत करो। तैयार रहो। क्योंकि तुम्हारा दूल्हा निश्चय ही आयेगा अपने दुल्हन के लिए रोश हैशान के समय सब्बाथ के दिन।”
याहुशुआ के दुल्हनों, अपने घुटनों के बल रहो मेरे समक्ष। पवित्र रहो और विनीत रहो। प्रार्थना करते रहो की तुम मेरे पुत्र याहुशुआ की दुल्हन कहने लायक बने रहो – जिनके वे पाँच समझदार कूंवारिया प्रतीक है, जो की पहला उठाना है, जिससे आमतौर पर रेप्चर (Rapture) कहा जाता है।
अतिथियों प्रार्थना करते रहो की तुम दूसरे उठाने (dusra रेप्चर) का भाग बन सको ताकि तुम मेमने के विवाह भोज में अतिथि बन सको। वे पाँच मूर्ख कूंवारिया अतिथियों के प्रतीक है जिन्हें कहा जाता है की दूल्हा दोबारा आयेगा, उसके बाद जब याहुशुआ के दुल्हनों को याहुशुआ उठा ले जाएंगे।
इसलिए सतर्क रहो क्योंकि न तो तुझे वो दिन और न घडी पता है (मत्ती २५: १-१३)। जब तक मेरा पुत्र याहुशुआ उन पाँच मूर्ख कूंवारियों को उठाने के लिए आयेगा – वे तब तक समझदार हो जाएंगे।
मैं, याहुवे कहता हूँ “लोगों तुम सत्या से भटक रहे हो!”

क्या तुझे जानना है की वो क्या बात है जो याहुशुआ के दुल्हन और अतिथि को अलग करती है? मैं तुझे अब बताता हूँ। तेरी याहुशुआ की दुल्हन बनने की तीव्र इच्छा और उस इच्छा को पवित्रता, प्रेम और आज्ञाकारिता से प्रमाणित कर तू साबित करता है की तू उनकी दुल्हन है। याहुशुआ की दुल्हन बनने के लिए तू कितना त्यागने को तैयार है, हर कार्य को उनके अनुसार करके अपने अनुसार से नहीं, और उनको हर कार्य में महिमित कर?
दुल्हन को पता है की उसे मेरे पवित्र दिनों का पालन करना है। दुल्हन कभी उस चीज से सम्झौता नहीं करती जो उसे पता है की सत्या है। वो निडर होकर सत्या बोलती है और उसे सामने लाती है। यही बातें है जो उसे अन्य से अलग करती है।
प्रीति भोज (Communion) भी एक चिन्ह है याहुशुआ के साथ विवाह बंधन का। याहुशुआ के दुल्हन हमारे पवित्र नाम, याहुवे और याहुशुआ का इस्तेमाल करते है। हिज्जे (spelling) माइने नहीं रखती क्योंकि मैं तुम्हारे हृदय को जनता हूँ और वो लज्जित नहीं है।
तू कितना ज्यादा चाहती है याहुशुआ की दुल्हन बनना? तुझमे कितना जुनून है याहुशुआ के लिए? तू कैसे प्रमाण करेगा की मैं, याहुवे और याहुशुआ, तेरे प्रेम, तेरे जीवन और तेरे हर काम में प्रथम है? यही बातें है जो तुम्हें याहुशुआ की दुल्हन के रूप में दूसरों से अलग करती है और मैं तुम्हें एक रहस्य बताता हूँ: तुम्हारा याहुशुआ के लिए जुनून और उनके लिए प्रेम की गहराई सब को साफ दिखता है। यही चिन्ह है याहुशुआ के दुल्हन का। उनको लगता है वे जितना भी मेरे लिए करते है काफी नहीं है।

अब तुम्हें इन रहस्यों के बारे में पता चल चुका है। क्या तुम समझ रहे हो मेरे प्रियों? यह ऐसी बात नहीं है जो तुम छुपा सको। क्योंकि मुझे मालूम है कौन सही-सही मायने में इच्छा रखता है याहुशुआ की दुल्हन बनने के लिए कीमत चुकाने को तैयार है। याहुशुआ की दुल्हन हर रोज यही प्रार्थना करती है, “मुझे आपकी नजरों में और पवित्र बना दीजिये।” याहुशुआ की दुल्हन मेरे समक्ष विनीत और पवित्र रहती है।
मैं, याहुवे कहता हूँ “लोगों तुम सत्या से भटक रहे हो!”
अब मेरे साथ वफादार रहो। केवल मेरे वचनों को सुनने वाले नहीं बल्कि पवित्र वचनों पर अमल करने वाले बनो (याक़ूब १:२२)। पवित्र बन जैसे मैं पवित्र हूँ भले ही तू इस संसार में है पर तुझे इस संसार की तरह व्यवहार नहीं करना है। न्यायविरुद्ध पस्तरों को मेरे भेड़ों और मेमनों को भटकाने मत दो क्योंकि हर किसी को “डरते और काँपते हुये अपने-अपने उद्धार का कार्य पूरा करना है” (फिल्लीप्पियों २:१२)। क्योंकि “कर्म बिना विश्वास व्यर्थ है” (याक़ूब २:२०)।
मेरे पुत्र याहुशुआ ने कल्वरी (Calvary) में अपने हिस्से का काम कर दिया है। अब मैं, याहुवे तुम्हें कहता हूँ, “अपने हिस्से का कार्य करो”: पूरी तरह से प्रयास कर आज्ञाकारी बनो। पहले से ठान कर पाप कभी मत करो। पाप करने के और पाप करके बहाने मत बनाओ। न्यायविरुद्ध प्रचारकों के बातों को ग्रहण मत करो।
क्योंकि मैं, याहुवे तुम्हें कहता हूँ: क्यों तुम मेरे पुत्र याहुशुआ को स्वामी कहते हो पर उनकी आज्ञा नहीं मानते? (लूका ६:४६).
अगर तुम पश्चाताप नहीं करोगे तुम्हारे अवज्ञा के लिए तो मैं, याहुवे कहता हूँ, “हे कुकर्म करने वालों, तुम सब मुझसे दूर रहो” (मत्ती ७:२३; लूका १३:२७) क्योंकि प्रलय के दिन मैं तेरे लिए खड़ा नहीं रहूँगा क्योंकि तूने याहुशुआ के पवित्र रक्त का मज़ाक उड़ाया है। तुम जो खुद को “प्रचारक” कहते हो, तुम मेरे लोगों को सिखाते हो कैसे पाप करने के बहाने बनाए, आज ही पश्चाताप कर मेरे भेड़ों और मेरे मेमनों को भटकाने के लिए नहीं तो मेरे अग्निज्वालित साँसों की महावायु तुझे तिनके की तरह उड़ा ले जाएगा।
मैं, याहुवे कहता हूँ, अगर तुझे यह वचन जो मैंने मेरे रिंगमैडन एलिशेबा के माध्यम से बोला है, पसंद ना आए तो तू इसका परिणाम भूकतेगा। क्योंकि मैं बहस नहीं करूंगा।
यहाँ केवल एक न्यायधिस और केवल एक ही पंच है।
और मैं, याहुवे अकेला रेफ्री हूँ।
अगर तुझे यह भविष्यवाणी पसंद ना आए तो अपनी शिकायत एलिशेबा के पास लेके मत जा बल्कि मैं, याहुवे के पास अपने सवालों को लेकर आ। एलिशेबा केवल मेरी अभिषेकित दूत है।
भविष्यवाणी समाप्त
***
अगस्त २, २००५, प्रात सुबह ४ बजे, इस तरह लिखा और बोला गया, इस याहुवे और याहुशुआ के रिंगमैडन के माध्यम से, उनके प्रशंसा, सम्मान और महिमा में।
मैं केवल एक विनीत दासी,
अपोस्टेल एलिशेबा एलियाहु